हर खबर सबसे पहले...अभी जुड़ें
Whatsapp Group
Join
Telegram Channel
Join
Whatsapp Channel
Join
हमसे जुड़े

Vande Bharat: वंदे भारत एक्सप्रेस पर फिर फेंके गए पत्थर, कर्नाटक में पत्थरबाजों ने बनाया निशाना, शीशा चटका

Stone Pelting At Vande Bharat: वंदे भारत ट्रेन पत्थरबाजी की घटनाएं रुक नहीं रही हैं. शनिवार, 1 जुलाई को धारवाड़-बेंगलुरु एक्सप्रेस को निशाना बनाया गया, जिसमें ट्रेन की खिड़की के शीशों को हल्का नुकसान हुआ है. पत्थरबाजी की घटना देवनगिरी रेलवे स्टेशन के पास हुई. इस ट्रेन को हाल ही में पीएम मोदी ने हरी झंडी दिखाई थी. रेलवे ने केस दर्ज जांच शुरू कर दी है.

शनिवार को 3.30 से 4 बजे के बीच जैसे ही ट्रेन देवनगिरी स्टेशन से रवाना होकर कुछ दूर पहुंची थी, उसी समय ट्रेन के ऊपर पत्थरबाजी की गई. दक्षिण पश्चिम रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि पत्थरबाजी में किसी को नुकसान नहीं हुआ और ट्रेन की सेवा पर कोई असर नहीं पड़ा. ट्रेन अपने निर्धारित समय 7.25 बजे गंतव्य पर पहुंची.

Advertisements
यह भी पढ़ें -  लुधियाना के युवक ने अंबाला की औरत को किया परेशान

चेयरकार की खिड़की का शीशा चटका

डेक्कन हेराल्ड ने रेलवे अधिकारी के हवाले से बताया है कि ट्रेन के चेयरकार डिब्बे (सी4 कोच) की खिड़की के बाहरी हिस्से को हल्का नुकसान हुआ है. खिड़की का अंदरी हिस्सा पूरी तरह सुरक्षित है. उन्होंने ये भी बताया कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) ने जांच शुरू कर दी है.

रेलवे के अधिकारी क्षति और मरम्मत लागत का आकलन करेंगे. ट्रेन का प्राथमिक रखरखाव केएसआर बेंगलुरु रेलवे स्टेशन पर होता है. घटना को गंभीरता से लेते हुए आरपीएफ ने रेलवे अधिनियम की धारा 153 (रेलवे की संपत्ति जानबूझकर नष्ट करना) के तहत मामला दर्ज कर लिया है. इसके तहत पांच साल तक की सजा का प्रावधान है.

यह भी पढ़ें -  सरपंच की गोली मारकर हत्या गुस्साए ग्रामीणों ने लगाया जाम

हाल ही में पीएम मोदी ने ट्रेन को किया था शुरू

बीती 28 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु से धारवाड़ के बीच सेमी हाई-स्पीड वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी. कर्नाटक में तीसरी बार वंदे भारत एक्सप्रेस को पत्थरबाजों ने निशाना बनाया है. इसी साल 25 फरवरी को चेन्नई-मैसुरु वंदे भारत एक्सप्रेस पर भी पत्थर फेंके गए थे, जिसमें ट्रेन के दो चेयरकार डिब्बों में ट्रेन की 6 खिड़कियों को नुकसान पहुंचा था.