सरकार लॉकडाउन लगाएगी क्या? कोरोना मामलों के रफ्तार पकड़ने पर यह बोले हरियाणा के मंत्री

20220110 195254

देशभर में कोरोनावायरस के नए और पुराने वैरिएंट का प्रकोप बढ़ रहा है। हरियाणा में भी रोज हजारों नए मरीज मिल रहे हैं। कल संक्रमण के 4361 मामले दर्ज किए गए। वहीं, अब सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 18321 जा पहुंची है। इसके अलावा मौतों का कुल आंकड़ा 10072 हो गया है। ऐसे में सरकार ने कई पाबदियां लगाई हैं, और स्कूलों को भी बंद कराया है। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने पिछले दिनों पंचकुला के अस्पताल में कोविड-19 की तैयारियों का जायजा लिया। अब लोगों के मन में यह सवाल उठ रहा है कि क्या फिर लॉकडाउन लग सकता है? सरकार ने इस बात का भी जवाब दिया है।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री विज ने कहा, “हमारी सरकार महामारी से निपटने के पर्याप्त इंतजाम कर चुकी है। यहां रोज हजारों लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। कोविड टेस्ट किए जा रहे हैं। इसके अलावा लॉजिस्टिक सपोर्ट बढ़ाया जा रहा है। जैसा कि, पिछली लहर में सबसे ज्यादा ऑक्सीजन में दिक्कतें आई थी, तो हमने उस समय सभी अस्पतालों में ऑक्सीनज प्लांट लगाने का निर्णय लिया था और अभी 84 प्लांट अस्पतालों में काम कर रहे हैं।”

विज बोले, “अब हमारे पास पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन का स्टॉक भी है। राज्य में इस साल की शुरुआत तक हम 98% लोगों को कोरोना की पहली डोज़ और लगभग 71% लोगों को दूसरी डोज़ लगा चुके हैं

आज यानी कि, 10 जनवरी से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन ड्राइव के बारे में हरियाणा स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि, 10 जनवरी से हेल्थ स्टाफ, फ्रंट लाइन वर्कर और 60 साल से ऊपर की आयु के लोगों का वैक्सीनेशन अभियान चलाया जाएगा। वहीं, कोरोना लॉकडाउन को फिर से लगाए जाने की चर्चाओं पर भी स्वास्थ्य विभाग ने स्पष्टीकरण दिया।
राज्य सरकार की फैक्ट चेकिंग टीम ने ट्वीट किया, “सोशल मीडिया पर हरियाणा सहित कई राज्यों में लॉकडाउन की खबरें चलाई जा रही हैं। इनमें कोई सच्चाई नहीं है। फिलहाल ना तो हरियाणा सरकार और ना ही केंद्र सरकार ने लॉकडाउन पर कोई फैसला लिया है। हालांकि, कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए कुछ पाबंदियां जरूर लगाई गई हैं।