हर खबर सबसे पहले...अभी जुड़ें
Whatsapp Group
Join
Telegram Channel
Join
Whatsapp Channel
Join
हमसे जुड़े

“हरियाणा में ऐतिहासिक कदम: मुख्यमंत्री ने इन 90 हजार कच्चे कर्मचारियों को किया पक्का देखिए लिस्ट “

हरियाणा में ऐतिहासिक कदम: मुख्यमंत्री ने 90 हजार कर्मचारियों को नई दिशा में दिखाया रास्ता

ठेकेदारों के चंगुल से मुक्ति: आउटसोर्सिंग से नौकरियों का बड़ा बदलाव

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कच्चे कर्मचारियों को ठेकेदारों के चंगुल से मुक्त करने के लिए आउटसोर्सिंग नीति को स्थापित किया है, जिससे 90 हजार से अधिक कर्मचारी विभिन्न विभागों में समर्पित हो गए हैं. इस कदम से न केवल नौकरियों में वृद्धि होगी, बल्कि ठेकेदारों के दबाव से मुक्ति भी मिलेगी।

1 लाख से अधिक युवाओं को मिली नौकरियां: लोकतंत्र के साथ कर्मचारी बदलाव

मुख्यमंत्री मनोहर लाल का मानना ​​है कि लोकतंत्र में सरकार चलाने में कर्मचारी अहम कड़ी होते हैं। पिछले 9 वर्षों में सरकारी कर्मचारियों की नियमित भर्ती प्रक्रिया योग्यता के आधार पर पूरी की गई है और 1 लाख 10 हजार से अधिक युवाओं को नौकरियां मिली हैं।

Advertisements
यह भी पढ़ें -  देश का पहला पिज्जा एटीएम बनेगा चंडीगढ की सुखना झील पर, कीमत भी होगी कम

कौशल रोजगार से बढ़ाए जा रहे विभागों की ताकत

हरियाणा कौशल रोजगार निगम ने विभिन्न विभागों की जरूरतों को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। लगभग 20 दिनों में विभागों की आवश्यकता के अनुसार कर्मचारियों को नौकरी मिलने की सुचना मिलती है।

जनसंवाद से सीधे संपर्क में मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने पिछले 9 वर्षों से जनसंवाद कार्यक्रमों में भाग लेकर लोगों के समस्याओं का सीधा समाधान किया है। अब तक 30 लाख से अधिक लोगों की मुख्यमंत्री तक सीधी पहुंच हो चुकी है, और सीएम विंडो पर प्राप्त 10 लाख से अधिक शिकायतों का समाधान किया गया है। इससे सरकार पर लोगों का विश्वास बढ़ा है।

यह भी पढ़ें -  TGT के 303 पदों पर भर्ती निकालेगा चंडीगढ़ शिक्षा विभाग, बिना इंटरव्यू होगी भर्ती