हरियाणा में चलेगी एक और सुपरफास्ट ट्रेन, ये रहेगा रूट

20220113 133630

मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य से गुजरने वाले ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर व वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर पर 10 रेलवे स्टेशन बनाए जाएंगे. इससे नए रेलवे स्टेशन के शहर,कस्बे, गांव और आसपास के क्षेत्रों के विकास को गति मिलेगी. इन क्षेत्रों में औद्योगिक, वाणिज्यिक व रिहायशी क्षेत्रों का भी विकास होगा.

हरियाणा के लोगों के लिए सरकार एक एक बड़ी खुशखबरी लेकर आई है. दिल्ली और हिसार के बीच सुपर फास्ट ट्रेन (Super Fast Train) चलाने की तैयारी है. इसके लिए रेल मंत्रालय (Railway Ministry) इस रूट पर ऊपरगामी (एलीवेटिड) रेल लाइन बिछवाएगा. इससे यात्रियों को काफी राहत मिलेगी. हरियाणा के शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डॉ. कमल गुप्ता ने बताया कि दिल्ली से हिसार के बीच नई रेलवे लाइन बनाने तथा इस मार्ग पर सुपरफास्ट ट्रेन चलाने की योजना बनाई जा रही है. इससे दिल्ली एयरपोर्ट और हिसार एयरपोर्ट की कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी.

फिलहाल दिल्ली-हिसार के बीच 180 किलोमीटर की दूरी सामान्य रेल से चार घंटे में तय होती है. एलीवेटिड रेल लाइन से यह दूरी महज पौने दो घंटे में तय की जा सकेगी. इसका फायदा यह होगा कि दिल्ली इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर यदि ज्यादा एयर ट्रैफिक होगा तो कुछ एयर ट्रैफिक हिसार एयरपोर्ट पर डायवर्ट किया जा सकेगा. इससे हिसार एयरपोर्ट को भी एविएशन हब के रूप में विकसित किया जा सकेगा.

शहरी स्थानीय निकाय मंत्री ने बताया कि नई रेलवे लाइन तथा फास्ट ट्रेन चलाने के बारे में गत दिवस मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रेलवे मंत्री अश्विनी वैष्णव के साथ विस्तार से बातचीत की है. उन्होंने बताया कि पूर्वी और पश्चिमी दोनों डेडिकेटिड रूट हरियाणा से निकलते हैं. इन पर दस नए रेलवे स्टेशन भी बनाए जाएंगे. रोहतक की एलिवेटेड रेलवे लाइन के नीचे रोड़ भी बनाया जाएगा.

उन्होंने बताया कि कैथल की एलिवेटेड रेलवे लाइन का डीपीआर बनाया जाएगा. पृथला और पलवल में अधिग्रहित की जाने वाली जमीन की प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जाएगी. इसके पश्वात शीघ्र लिंक बनाकर इकोनॉमी कॉरिडोर से जोड़ दिया जाएगा. कमल गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में रेलवे एवं सडक मार्गों के बुनीयादी ढांचे के सुधारीकरण को लेकर राज्य सरकार द्वारा कारगर कदम उठाए जा रहे हैं.