अब पाताललोक में दौड़ेगी दिल्ली मेट्रो, जमीन में 23 मीटर नीचे चलेगी सिल्वर लाइन

images 2022 03 04T181947.475
``` ```

दिल्ली में आमतौर पर ट्रैफिक ज्यादा होता है. लोग ट्रैफिक में फंसे रहते हैं. ऐसे में दिल्लीवासी निजी वाहनों से यात्रा करना कम पसंद करते हैं. दिल्ली मेट्रो लगातार अपना विस्तार कर रही है. इस साल DMRC सिल्वर लाइन मेट्रो का काम शुरू करेगा. यहां आपको ये बता दें कि सिल्वर लाइन मेट्रो कई मायनों में खास है. सिल्वर लाइन पर तुगलकाबाद मेट्रो स्टेशन पर इंटरचेंज स्टेशन के रुप में काम करेगा. बताया जा रहा है कि 2025 तक तैयार होने वाली ये लाइन वॉयलट लाइन से भी कनेक्ट होगी.

images 2022 03 04T181935.309

जानकारी के मुताबिक तुगलकाबाद इंटरचेंज स्टेशन 4 लेवल का होगा. पहला लेवल रूफ होगा. तुगलकाबाद स्टेशन में एंट्री के साथ ही ग्रीनरी एरिया और एंट्री बिल्डिंग होंगी. जबकि दूसरा लेवल का स्टेशन पार्किंग के लिए रिजर्व होगा. इसके साथ ही वॉयलेट और सिल्वर लाइन स्टेशनों दोनों के लिए लिफ्टों, सीढ़ियों और एस्केलेटर के जरिए एक्सेस होगा. तुगलकाबाद दिल्ली मेट्रो का दूसरा ऐसा इंटरचेंज स्टेशन होगा जहां अंडरग्राउंड की सुविधा होगी.

यह भी पढ़ें  दिल्ली में लागू कर्फ़्यू और प्रतिबंध, 10 बजे से पहले घुसना होगा घर, स्कूल, कॉलेज, सिनेमा जिम LOCKDOWN

साल 2025 तक सिल्वर लाइन मेट्रो का काम पूरा हो जाएगा. बताया जा रहा है कि सिल्वर लाइन पर कुल 15 स्टेशन होंगे. एरोसिटी-तुगलकाबाद कॉरिडोर में चार एलिवेटेड स्टेशन और 11 अंडरग्राउंड स्टेशन होंगे. बता दें कि तुगलकाबाद में मौजूदा स्टेशन एलिवेटेड है. अब यहां

images 2022 03 04T181916.482

नया अंडरग्राउंड स्टेशन बनेगा.

सिल्वर लाइन के बनने से फरीदाबाद समेत दूर-दराज के इलाकों से आए यात्रियों को समय की बचत होगी. इसके साथ ही यात्री तुगलकाबाद इंटरचेंज पर उतर सकते हैं. साथ ही डोमेस्टिक एयरपोर्ट से डायरेक्ट कनेक्ट का फायदा मिलेगा. फिलहाल वायलेट लाइन पर यात्रियों को केंद्रीय सचिवालय तक जाना पड़ता है. इसके बाद एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन के जरिये वे डोमेस्टिक और इंटरनेशनल एयरपोर्ट टर्मिनल पहुंचते हैं. लेकिन सिल्वर लाइन मेट्रो बनने से यात्रियों को समय की बचत होगी.