परिवहन विभाग ने जारी किए आदेश, नियमों के उल्लघंन पर 10 हजार का जुर्माना तय

राजधानी में कई कारणों से प्रदूषण से बढ़ता जा रहा है। जिसकी वजह से लोगों को सांस लेने में मुश्किल हो रही है… ऐसे में परिहन विभाग का कहना है कि अब सभी अपने वाहनों पर डीजल-पेट्रोल व सीएनजी का स्टीकर लगाना अनिवार्य है। अगर कोई वाहन चालक दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करते हैं तो उन्हें भारी जर्मुाना देना पड़ सकता है।

प्रदूषण से लोगों को राहत कब !

प्रदूषण से बचने के लिए केजरीवाल सरकार ने आड-ईवन की शुरुआत की थी। लेकिन इसके बाद भी प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है। इसलिए इस बार कर्मचारियों को वर्क फ्राम होम कर दिया गया है ताकि दिल्ली में वाहनों का दबाव कम हो और तमाम तरह के निर्माण संबंधी कार्यो पर भी रोक लगा दी है।

परिवहन विभाग के आदेश

बता दे कि परिवहन विभाग का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश और केंद्रीय मोटर वाहन नियम-1989 के अनुसार दिल्ली में रजिस्टर्ड सभी वाहनों पर क्रोमियम आधारित होलोग्राम स्टीकर लगाना अनिवार्य है।