दिल्ली में दुकानो के ODD EVEN सिस्टम की लेकर भड़के व्यापारी। कहा-

20220119 145311
``` ```

कोरोना की तीसरी लहर ने लोगों की परेशानी बढ़ानी शुरू कर दी है. दिल्ली में पिछले 4 दिनों से कोरोना के मामले तो कम हो रहे हैं. लेकिन संक्रमण रोकने के लिए दिल्ली सरकार नियमों में किसी तरह की ढील नहीं बरत रही है. अब सरकार के ऑड और ईवन दिन दुकान खोलने के फैसले के खिलाफ दिल्ली के दुकानदारों ने बिगुल बजा दिया है.

दिल्ली के कुतुब रोड चौक पर व्यापारियों ने बुधवार को थाली बजाकर दिल्ली सरकार के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन किया. विरोध करने आए व्यापारी हाथ पर काली पाटी बांधे थे. उनके हाथ में प्ले कार्ड था, जिसमें लिखा था नहीं चाहिए ऑड ईवन (ऑड ईवन नहीं चाहिए).

दुकानदार बोले- नुकसान की भरपाई कौन करेगा?

फेडरेशन ऑफ सदर बाजार ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश यादव ने बताया कि प्रतिबंध के कारण दुकानदारों को महीने में केवल 10-12 ही दुकान खोलने को मिलती है. इससे बड़ा आर्थिक नुकसान हो रहा है. राकेश ने नियम रद्द करने की मांग की है. सदर बाजार ट्रेडर्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष परमजीत सिंह ने बताया कि वीकेंड पर दुकानें खोलने की अनुमति मिलनी चाहिए. ऑड-ईवन फार्मूले और वीकेंड कर्फ्यू से दुकानदारों को बड़ा आर्थिक नुकसान हो रहा है, उसकी भरपाई कौन करेगा.

यह भी पढ़ें  दिल्ली में शराब शौकीनो के लिये खुशी की लहर अब सिर्फ इन 3 दिन होगा DRY DAY।

टाइमिंग कम करने को तैयार, लेकिन पूरे हफ्ते खुले दुकान

साउथ दिल्ली के सबसे बड़े बाजार खान मार्केट के व्यापारी भी ऑड-ईवन का विरोध कर रहे हैं. खान मार्केट के अध्यक्ष संजीव मेहरा के मुताबिक जब दिल्ली में मेट्रो 100 फीसदी कैपेसिटी से साथ चल रही है. बसों को अनुमति दी गई है सड़कों पर पटरिया लग रही हैं तो सरकार को दुकानदारों से क्या दिक्कत है. सरकार बेशक टाइमिंग थोड़ा कम कर दे, लेकिन दुकान पूरे हफ्ते खोलने दी जाए.

कर्मचारियों की सैलरी निकालना तक मुश्किल हुआ

नई दिल्ली ट्रेडर्स एसोसिएशन के सेक्रेटरी सदस्य अमित गुप्ता ने बताया कि 2 हफ्ते में 8 से 10 दिन दुकानें खुल रही हैं और इसमें 30 दिन की एमआई निकालना और दुकान पर काम करने वाले लड़कों की सैलरी निकालना मुमकिन नहीं है. नई दिल्ली ट्रेडर्स एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी विक्रम ने सरकार की नीति पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा कि पड़ोसी राज्यों हरियाणा और उत्तर प्रदेश में भी कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. लेकिन वहां ना तो ऑर्ड-ईवन फॉर्मूला चल रहा है ना ही वीकेंड कर्फ्यू है.

यह भी पढ़ें  जानिए किन वजहों से दिल्ली-नोएडा के रास्ते पर लगता है जाम, वाहन चालक होते हैं परेशान।