दिल्ली आने जाने के लिए अब देना होगा अब इन सारे Entry/Exit पर टोल टैक्स, 140 रुपए रोज़ दे कर घुसना होगा दिल्ली

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर अब सफर मुफ्त नहीं होगा। एक्सप्रेसवे पर 25 दिसंबर से टोल वसूला जाएगा। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने इसकी सूचना जारी कर दी है।

टोल की दरें तय हो गई हैं। सराय काले खां से मेरठ तक के सफर के लिए 140 रुपये टोल देना होगा। इंदिरापुरम से मेरठ तक के लिए 95 रुपये टोल चुकाना होगा। टोल वसूली करने वाली कंपनी ने तैयारी पूरी कर ली है।

गौरतलब है कि एनएचएआई ने अप्रैल 2021 से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे को वाहनों के लिए खोल दिया था। निर्माण कार्य पूरा न होने और यूपी गेट पर किसान आंदोलन की वजह से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर आवाजाही बाधित थी। इसकी वजह से टोल नहीं लगाया गया था।

अब किसान आंदोलन समाप्त हो जाने के बाद एक्सप्रेसवे पूरी तरह खाली हो गया है। 15 दिसंबर से वाहन दौड़ने शुरू हो गए। एनएचएआई ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर टोल वसूली का कांट्रेक्ट पाथवे इंडिया नाम की एक फर्म को दिया है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से टोल दरों को मंजूरी मिलने के बाद एनएचएआई ने नोटिफिकेशन जारी कर इन दरों को सार्वजनिक कर दिया है।

रोजाना 30 हजार वाहन चालकों की जेब होगी ढीली

सराय काले खां से मेरठ तक एक्सप्रेसवे पर रोजाना करीब 30 हजार वाहनों का आवागमन होता है। सप्ताहांत में वाहनों की संख्या ज्यादा रहती है। अभी तक यह वाहन बिना टोल दिए आवागमन कर रहे थे, लेकिन अब इन 30 हजार वाहन चालकों को एक्सप्रेसवे पर चलने के लिए टोल चुकाना पड़ेगा। टोल वसूली का कांट्रेक्ट लेने वाली कंपनी ने काशी टोल पर बने कंट्रोल रूम को भी टेकओवर कर लिया है।

IMG 20211219 201412

डूंडाहेड़ा से रसूलपुर सिकरोड भोजपुर काशी प्लाजा

IMG 20211219 201430