नए साल में दिल्ली के लोगों को ये बड़ी सौगात दे सकती है केजरीवाल सरकार, जानें कैसे होगा फायदा?

075f06caec4eab6b7eae4d607b36d9a3 original

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार अगले साल फरवरी में ई-हेल्थ कार्ड लॉन्च करने जा रही है. दिल्ली के रहने वाले लोगों को ये स्मार्ट हेल्थ कार्ड दिए जाएंगे, जिसमें इलाज से जुड़ी सभी जानकारी होगी. इस क्यूआर कोड-आधारित हल्थ कार्ड को वोटर आईडी के आधार पर दिया जाएगा. इसके लिए जनवरी तक हेल्थ कार्ड जारी करने वाली एजेंसी का भी चयन कर लिया जाएगा. इस हेल्थ कार्ड में ब्लड ग्रुप, शुगर और हाई ब्लड प्रेशर जैसी कई समस्याओं की डेटा के साथ-साथ स्वास्थ्य से संबंधित सभी डिटेल्स रहेंगे.


दिल्ली के निवासियों को पहले एक साल के लिए एक अस्थायी कार्ड मिलेगा लेकिन बाद में दिल्ली सरकार के द्वारा डोर-टू-डोर सर्वेक्षण करा लने के बाद इसे स्थाई कर दिया जाएगा. इसमें दो स्थाई कार्ड जारी किए जाएंगे. एक पूरी डिटेल्स के साथ जबकि एक एटीएम के जैसा स्मार्ट कार्ड दिया जाएगा. यही नहीं एक किट भी दिया जाएगा जिसमें मुख्यमंत्री का पत्र, इसके लाभ और उपयोग, क्या करें और क्या न करें जैसी जानकारियां होंगी, जो स्पीड पोस्ट के माध्यम से भेजे जाएंगे.

यह भी पढ़ें  इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन बनाने के काम में आएगी तेजी, दिल्ली में इन 14 स्थानों पर होंगे प्वाइंट

स्मार्ट हेल्थ कार्ड पर होगी ये जानकारी
इस कार्ड पर दिल्ली सरकार का नाम और लोगो होगा. इसमें कार्ड धारक का नाम, पिता का नाम, जन्म तिथि, आयु, लिंग और पता होगा. राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के दिशा-निर्देशों के अनुसार व्यक्ति को एक स्वास्थ्य आईडी दी जाएगी. दिल्ली सरकार एक केंद्रीकृत स्वास्थ्य हेल्पलाइन की योजना बना रही है, जो कार्ड पर उपलब्ध कराई जाएगी. दिल्ली के रहने वाले लोग दिल्ली स्वास्थ्य कार्ड वेब पोर्टल, मोबाइल ऐप या घर-घर सर्वेक्षण के दौरान अपना पंजीकरण करा सकते हैं. प्रत्येक परिवार के पास पंजीकरण के लिए एक या इससे अधिक फोन नंबरों का उपयोग करने का विकल्प होगा. हालांकि, एक परिवार के लिए पहले से पंजीकृत फोन नंबर का इस्तेमाल दूसरे परिवार के लिए नहीं किया जा सकता है.

दिल्ली के हर व्यक्ति को हेल्थ इन्फॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम (एचआईएमएस) के तहत स्मार्ट हेल्थ कार्ड से जोड़ा जाएगा. पहले सभी सरकारी अस्पतालों में एचआईएमएस लागू किया जाएगा और फिर चरणबद्ध तरीके से प्राइवेट अस्पतालों को भी इसमें शामिल किया जाएगा. आपको बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कुछ महीने इसकी घोषणा करते हुए बाताया था कि कैबिनेट से इसकी मंजूरी मिल गई है और जल्द ही इसपर काम शुरू कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें  दिल्ली के इन इलाकों में 2 दिन नही आएगा पानी, जल बोर्ड ने tweet कर दी जानकारी