दिल्ली में मात्र 7 लाख में मिल रहा है फ्लैट। इस स्कीम के मुताबिक, जल्दी करे आवेदन

20220223 100017

दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) की ओर से प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाइ) के तहत भूमिहीन शिविर के पात्र जेजे कालोनी निवासियों को फ्लैट दिए जा रहे हैं। वर्ष 2022 तक शहरी गरीबों को किफायती आवास प्रदान करने के उद्देश्य से पहले चरण में कुल 2,700 में से 679 फ्लैट आवंटित किए गए। शेष फ्लैट भी दस्तावेजों की कमी पूरा होते ही ड्रा निकाल कर आवंटित कर दिए जाएंगे।

इस बाबत दिल्ली विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के मुताबिक, भूमिहीन कैंप के 2,700 फ्लैटों में से 679 फ्लैटों के उन जेजे कालोनी के निवासियों के संबंध में पात्रता निर्धारित की गई है, जिनके दस्तावेज सही पाए गए हैं। सभी सफल पात्रों को फ्लैटों के आवंटन एवं मांग-पत्र भी जारी कर दिए गए हैं, यही नहीं भूमिहीन शिविर के पात्र जेजे निवासियों को दस्तावेजों में कमी वाले पत्र भी जारी कर दिए गए। इन सभी खामियों को दूर करने के बाद दस्तावेज जमा कर दिए जाएंगे तो उनके पक्ष में भी एक नया ड्रा आयोजित कर दिया जाएगा।

डीडीए का कहना है कि भूमिहीन शिविर के पात्र जे जे निवासियों को डीडीए द्वारा निर्मित, डिजाइन एवं बिल्ड पाकेट ए 14 कालकाजी एक्सटेंशन में बिल्ट-अप ईडब्ल्यूएस फ्लैटों में 1,42,000 (30,000 के पांच वर्ष के अनुरक्षण प्रभार सहित) का भुगतान करने पर शिफ्ट कर दिया जाएगा।

गौरतलब है कि भूमिहीन कैंप, नवजीवन कैंप और जवाहरलाल कैंप जैसे जे जे क्लस्टर के इन सीटू पुनर्वास/पुनर्विकास का कार्य डीडीए द्वारा किया जा रहा है। शेष दो जे जे क्लस्टर अर्थात नवजीवन कैंप और जवाहरलाल नेहरू कैंप के लिए भी पीपी मोड के तहत एक स्कीम तैयार की जा चुकी है, जल्द ही निविदा जारी कर दी जाएगी।

यहां पर बता दें कि दिल्ली विकास प्राधिकरण ने 18000 से अधिक फ्लैटों की आवासीय योजना भी निकाली है, जिसके लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 10 मार्च रखी गई है। पहले आवदेन की 7 फरवरी थी, जिसे बढ़ाया गया है।