Home दिल्ली-एनसीआर दिल्ली आने जाने के लिए एक और Expressway, अभी नही लगेगा TOLL-TAX,...

दिल्ली आने जाने के लिए एक और Expressway, अभी नही लगेगा TOLL-TAX, निकलने से पहले जान लीजिए रूट

दिल्ली आने जाने के लिए लखनऊ Expressway को जोड़ते नया 341 किमी लंबा यह एक्सप्रेसवे 9 जिलों लखनऊ से होते हुए बाराबंकी, फैजाबाद, अंबेडकरनगर, अमेठी, सुल्तानपुर, आजमगढ़, मऊ और गाजीपुर से होकर गुजरेगा। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की शुरुआत लखनऊ सुलतानपुर राजमार्ग पर चंदसराय गांव से गाजीपुर जिले के हलदरिया गांव पर खत्म होगा और फिर Link Expressway से बलिया और बिहार के छपरा ज़िले के बॉर्डर तक लगेगा.

एक्सप्रेस-वे के रूट पर 18 फ्लाइओवर

इस एक्सप्रेस-वे की खास बात है कि इस पर 3.41 मीटर की एयर स्ट्रिप भी बनाई गई है। इस एक्सप्रेस-वे के रूट पर 18 फ्लाइओवर, 7 रेलवे ओवर ब्रिज, 6 टोल , 5 रैंप पास और 7 अंडरपास हैं। इसके अलावा 118 छोटे पुल और 502 पुलिया हैं। फिलहाल एक्सप्रेस-वे को 6 लेन का बनाया गया है, जिसका विस्तार आठ लेन तक किया जा सकता है।

ऐसे 10-11 घंटे में पूरा होगा दिल्ली से सफर

गाजीपुर से लखनऊ- 4 से 4.30 घंटे
लखनऊ से आगरा- 3 से 3.30 घंटे
आगरा से नोएडा- 2 से 2.30 घंटे

हर पैकेज पर तैनात होगी 112 और ऐंबुलेंस

एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले यात्रियों की सुरक्षा के लिए हर पैकेज पर 112 की गाड़ियां मौजूद रहेंगी। साथ ही हर पैकेज पर दो ऐंबुलेंस भी तैनात रहेंगी। इसके अलावा पुलिस चौकी का निर्माण भी एक्सप्रेस-वे पर बनाया जाएगा। साथ ही हैलिपैड का निर्माण भी किया जाएगा। इसके अलावा एक्सप्रेस-वे पर 8 पेट्रोल पंप शुरू किए जाएंगे। साथ ही सीएनजी स्टेशन भी लगाया जाएगा। यूपीडा सीईओ ने बताया कि एक्सप्रेस-वे के किनारे इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए रिचार्ज स्टेशन भी बनाया जाएगा।

एक्सप्रेस-वे के किनारे विकसित होगा इंडस्ट्रियल एरिया

image editor output image861185136 1637122614320

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के आसपास 5 इंडस्ट्रियल क्लस्टर्स बनाने की योजना सरकार की है। इससे बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। एक्सप्रेस-वे के आसपास खाद्य उत्पाद एवं प्रोसेसिंग, वेबरेज, रिफाइंड, पेट्रोलियम उत्पाद, केमिकल उत्पाद, नॉन मेटालिक मिनरल प्रॉडक्ट्स, इलेक्ट्रिक इक्विपमेंट, मेडिकल और डेंटल इक्विपमेंट्स से संबंधित इंडस्ट्री लगाई जाएगी। इसके लिए 9,197 हेक्टेयर जमीन चिह्नित की गई है। यहां इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट भी खोले जाएंगे। उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे डेवलपमेंट अथॉरिटी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के आसपास के जिलों की चिह्नित कर ली है।

अभी नही लगेगा कोई भी TOLL TAX.

9 जिलों को जोड़ने वाले इस एक्सप्रेस-वे से गाजीपुर से दिल्ली पहुंचने में महज 10 घंटे लगेंगे. साथ ही राजधानी से पूर्वांचल के आखिरी छोर तक सीधी कनेक्टिविटी हो जाएगी. लोगों के लिए राहत भरी बात यह है कि एक्सप्रेस-वे पर सफर करने वालों को फिलहाल टोल टैक्स (Toll) नहीं देना होगा. यानी अभी कुछ दिन यह सफर मुफ्त रहेगा

purvanchal expressway e1637112363132

बाद में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे की तर्ज पर लगेगा टोल

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर फिलहाल भले ही टोल ना लगे लेकिन आने वाले समय में टोल टैक्स वसूलने का काम निजी कंपनी को दिया जाएगा. यह कंपनी जल्द प्रति किमी के हिसाब से टोल की दरें तय करेगी और इसके बाद टोल बूथ पर टोल लगेगा. माना जा रहा है कि इसकी दरें लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे की दरों के आसपास ही रखी जाएंगी.