दिल्ली में शराब शौकीनो के लिये खुशी की लहर अब सिर्फ इन 3 दिन होगा DRY DAY।

images 2021 12 17T112337 1.860
``` ```

Dry Day In Delhi: देश की राजधानी दिल्ली में जाम छलकाने वालों के लिए खुशखबरी है. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने अपनी नई आबकारी नीति (New Excise Policy) के तहत अब ड्राई-डे (Dry Day) की संख्या घटा दी है. पहले सालभर में 21 दिन ड्राई-डे होते थे. लेकिन अब दिल्ली में सिर्फ 3 दिन ही ड्राई-डे रहेगा. इसे लेकर नया नियम लागू कर दिया गया है. इससे जाम छलकाने वालों में खुशी की लहर है.

अब ड्राई-डे किस दिन होगा?

दिल्ली सरकार की ओर से जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि लाइसेंस प्राप्त शराब और अफीम की दुकानें गणतंत्र दिवस (26 जनवरी), स्वतंत्रता दिवस ( 15 अगस्त) और गांधी जयंती 2 अक्टूबर को बंद रहेंगी.

होटल-दुकानों पर क्या नियम लागू होगा?

दिल्ली आबकारी नियम 2010 (52) के प्रावधानों के तहत राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में वर्ष 2022 में 26 जनवरी, 15 अगस्त और 2 अक्टूबर को शराब की बिक्री की अनुमति नहीं होगी. साथ ही आबकारी विभाग ने कहा कि ड्राई-डे के दौरान एल-15 लाइसेंस वाले होटल संचालक अपने कमरों में मेहमानों को शराब परोस सकेंगे. हालांकि आदेश में ये भी कहा गया है कि सरकार इन तीन ड्राई-डे के अलावा साल में किसी भी दिन को समय-समय पर ‘ड्राई-डे ‘ घोषित कर सकती है.

यह भी पढ़ें  35.99 करोड़ रुपये से बदलेगी दिल्ली सेक्रेट्रिएट की तस्वीर, जानें क्या है प्लान

कब लागू की गई नई आबकारी नीति?

दिल्ली सरकार ने बीते साल नवंबर में नई आबकारी नीति को मंजूरी दी थी. जो 17 नवंबर से लागू हो है. बता दें कि न्यू एक्साइज पॉलिसी में कई नियमों में बदलाव किया गया है. सरकार की नई एक्साइज पॉलिसी के तहत हर वार्ड में तीन से चार शराब की दुकानें खुल रही हैं. पहले 79 ऐसे वार्ड थे जहां एक भी शराब की दुकानें नहीं थी.

पहले कब होता था ड्राई-डे?

बता दें कि बीते साल तक होली, दीवाली, जन्माष्टमी, मुहर्रम, ईद-उल-जुहा (बकरीद), गुड फ्राइडे, राम नवमी, महावीर जयंती, बुद्ध पूर्णिमा, महर्षि वाल्मीकि जयंती, गुरु नानक जयंती, दशहरा समेत अन्य त्योहारों पर ड्राई-डे रहता था.

होटल संचालकों की क्या है प्रतिक्रिया ?

दिल्ली सरकार के इस फैसले का दिल्ली में पर्टयन उद्योग ने स्वागत किया है. नेशनल रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष कबीर सूरी ने कहा कि हम इस कदम का स्वागत करते हैं. क्योंकि इससे कस्टमर और व्यापारियों दोनों को फायदा होगा. यह हमें उस नुकसान से बचाएगा, जो पहले ड्राई-डे के कारण होता था.

यह भी पढ़ें  गाड़ी में लगवा रहे हैं CNG तो रुक जाए, पहले परिवहन विभाग का नया जानकारी जान लीजिए, इंजन मॉडल मिला लीजिए