दिल्ली के मंदिरों में साधु बनकर रह रहा था व्यक्ति, पुलिस ने पकड़ा तो हुआ ये खुलासा

20220107 123002

पुलिस ने शराब तस्करी के मामले कोर्ट द्वारा प्रोक्लेमड ऑफण्डर घोषित किये जाने के बाद अजित उर्फ सोलंकी नाम के फरार आरोपी को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तारी के समय भी आरोपी साधू के भेष में था.

गिरफ्तारी के बाद आरोपी ने पुलिस से कहा कि उसका हृदय परिवर्तन हो गया है, और अब उसने जुर्म की दुनिया छोड़ दी है. वहीं उसने बताया कि अब वह लगातार अलग-अलग मंदिरों में रह रहा था.

आपको बता दें कि दिल्ली की अदालत ने सिंतबर 2021 में ही कोर्ट में लगातार हाजिर न होने के बाद इस आरोपी को फरार घोषित किया था. पुलिस के मुताबिक आरोपी पहले बस कंडक्टर का काम करता था, फिर वह शराब तस्करी करने लगा और अब साधू बनकर रह रहा था.

पुलिस ने बताया, ”आरोपी ने अपने गांव में सातवीं तक पढ़ाई की है और कुछ समय बाद वो दिल्ली शिफ्ट हो गया जहां उसने बस कंडक्टर का काम किया. पुलिस ने ये भी बताया है कि आरोपी शराबी था और 2017 और 2018 में दिल्ली आबकारी अधिनियम के तहत उस पर दो बार केस दर्ज हुआ था. बाद में वो साधु बन गया और दिल्ली के अलग-अलग मंदिरों में रहने लगा. पिछले कुछ दिनों से कोर्ट के दिए गए डेट पर वो हाजिर नहीं हो रहा था.”

बुधवार को टिप ऑफ के जरिए कुछ जानकारी मिली. इसके बाद पुलिस ने अपना जाल बिछाया और अजित को गिरफ्तार कर लिया.