दिल्ली के करोलबाग में 9 एकड़ में बनेगा Waste-to-art Park,25 ऐतिहासिक इमारतों के बनेंगे नमूने।

20220224 175531
``` ```

दक्षिणी दिल्ली के सराय काले खां स्थित वेस्ट टू वंडर पार्क की तर्ज पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम (North Delhi Municipal Corporation) भी करोल बाग (Karol Bagh) के अजमल खान पार्क में वेस्ट टू आर्ट पार्क बनाने जा रही है. इस पार्क में वेस्ट टू वंडर पार्क की तरह ही गाड़ियों के स्क्रैप से विश्व भर की ऐतिहासिक और खूबसूरत इमारतों की प्रतिलिपि और नमूने बनाए जाएंगे.

25 ऐतिहासिक इमारतों के बनेंगे नमूने

images 2022 02 24T175430.304

नॉर्थ एमसीडी हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट के डायरेक्टर आशीष प्रियदर्शी ने एबीपी न्यूज को बताया कि जल्द ही इस नए प्रोजेक्ट को लेकर काम शुरू किया जाएगा. नॉर्थ एमसीडी इसको लेकर स्टैंडिंग कमेटी में प्रस्ताव पास करेगी.

जिसके बाद इसका टेंडर एक कंपनी को दिया जाएगा और करोल बाग स्थित अजमल खान पार्क में विश्व प्रसिद्ध 25 ऐतिहासिक इमारतों के नमूने बनाए जाएंगे. नॉर्थ एमसीडी इस पार्क में पुरानी गाड़ियों, ऑटोमोबाइल पार्ट्स और खराब हो चुकी चीजों के वेस्ट मटेरियल का इस्तेमाल कर इन नमूनों को बनाएगी जोकि अपने आप में ही आकर्षण का मुख्य केंद्र होंगे.


लागत और कितनी जमीन पर होगा विकसित

यह भी पढ़ें  दिल्ली में शराब पीने वालों के लिए खास खबर। जल्दी पढे-

आशीष प्रियदर्शी ने बताया कि इस पूरे प्रोजेक्ट को लगभग 9 एकड़ जमीन पर विकसित किया जाएगा और इसकी लागत लगभग 27.14 करोड रुपए होगी.

images 2022 02 24T175439.308

उन्होंने बताया कि दक्षिणी दिल्ली स्थित वेस्ट टू वंडर पार्क में पुरानी गाड़ियों के पार्ट्स से बने प्रतिरूपों को देखने के लिए लोगों का आकर्षण दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है. बड़ी संख्या में लोग वहां पहुंच रहे हैं. यह लोगों के बीच में काफी लोकप्रिय होता जा रहा है.

इसे देखते हुए ही उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने भी करोल बाग में अजमल खान पार्क को बेस 28 पार्क में डिवेलप करने का फैसला किया है.

जहां वेस्ट टू वंडर पार्क में दुनिया के अजूबों के नमूने बनाए गए हैं. वहीं करोल बाग स्थित अजमल खान पार्क में 25 दुनिया के अलग-अलग ऐतिहासिक इमारतों के नमूने बनाए जाएंगे जिसमें 3D प्रतिरूप भी शामिल हैं.


इनके नमूने लगाए जाएंगे


आशीष ने बताया कि इस पार्क में द ग्रेट वॉल ऑफ चाइना, जापान स्थित कामाकुरा का द ग्रेट बुद्धा, गीजा का महान स्फिंक्स, ऑस्ट्रेलिया का ओपेरा हाउस, डेनमार्क का द लिटिल मरमेड, बर्सिलोना का सग्रादा फैमिलिया, बर्लिन का बार डेनवर गेट, इंग्लैंड का स्टोनहैंज रूम, पेरिस का ला वेरी-वेरी, गुजरात स्टैच्यू ऑफ यूनिटी सरदार वल्लभ भाई पटेल की विशाल प्रतिमा, ईस्टर द्वीप ट्रेवी फाउंटेन जैसी फेमस इमारतों और मॉन्यूमेंट के नमूने लगाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें  दिल्ली वालों के लिये खुशखबरी 19 नवंबर को नही लगेगा टिकट।जी भरकर घूम लीजिए कही भी।