दिल्ली के फ्लाईओवर अब हो जाएंगे साऊंड प्रूफ, 200 करोड़ से लगेंगे साऊंड बैरियर और फिर नहीं होगा वाहनों का शोर

20211219 125405

नई दिल्ली: देश की राजधानी में अब एक ऐसे आधुनिक सिस्टम लगाने की तैयारी की जा रही है, जिनसे लोगों को वाहनों का शोर सुनाई ही नहीं देगा। प्रथम चरण में दिल्ली के ऐसे 13 फ्लाईओवर का चयन किया गया है, जिनमें यह सिस्टम लगाया जाएगा। इस सिस्टम को साऊंड बैरियर कहा जाता है। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इस साऊंड बैरियर के लगते ही सभी फ्लाईओवर में वाहनों का शोर होना बंद हो जाएगा। इस सिस्टम से उन लोगों को राहत मिलेगी, जोकि फ्लाईओवर के आसपास रहते हैं और दिन रात वाहनों के शोर से परेशान हो जाते हैं।

200 करोड़ रुपए का खर्च आएगा

इस नई और आधुनिक तकनीक पर करीब 200 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। बताया जा रहा है कि लोक निर्माण विभाग ने इस तकनीक पर तेजी से काम करना शुरू कर दिया है। देश में पहली बार ऐसा प्रयोग किया जा रहा है कि फ्लाईओवर के अंदर से गुजरने वाले वाहनों का शोर ही ना हो। फिलहाल ऐसे फ्लाईओवर का चयन किया गया है, जोकि राजधानी की घनी आबादी के बीच में से गुजर रहे हैं।

यह भी पढ़ें  दिल्ली में क्या फिर बंद होंगी शराब की दुकानें?शराब की दुकानों पर लगीं लंबी कतारें, जानिए क्या है वजह?

30 साल पुराने फ्लाइओवर भी शामिल

दिल्ली में कई ऐसे फ्लाइओवर हैं जो आबादी के पास से गुजरते हैं। कहीं इनके ओर तो कहीं इनके दोनों ओर आबादी है। कई जगह आबादी बसने के बाद फ्लाइओवर बनाए गए हैं तो कई जगह फ्लाइओवर बनने के बाद उनके आसपास आबादी बस गई है, मगर समस्या सभी की एक है कि फ्लाइओवर पर गुजरने वाले वाहनों से शोर बहुत होता है। कई बार रात में लोग अधिक परेशान होते हैं। ऐसे फ्लाइओवरों में से लोक निर्माण विभाग के ही अधिक फ्लाइओवर हैं, जिसमें से तीस साल पुराने फ्लाइओवर भी शामिल हैं

जिन फ्लाईओवर का चयन हुआ है

बता दें कि इस योजना के लिए जिन फ्लाईओवर का चयन किया गया है, उनमें राव तुलाराम, मुनीरिका, नारायणा, यमुना विहार गोकुलपुरी, अशोक नगर, नत्थू कालोनी, बारामूला, सावित्री सिनेमा तथा आईआईटी फ्लाईओवर के नाम शामिल हैं।