दिल्ली ने बेंगलुरु को पछाड़ा, स्टार्ट-अप के मामलों में युवा दे रहे नौकरी

images 2022 01 08T162620 2.580

दिल्ली ने स्टार्ट-अप बिजनेस के मामले में बेंगलुरु को पछाड़ दिया है। अप्रैल 2019 और दिसंबर 2021 के बीच बेंगलुरु में 4,514 स्टार्ट-अप की तुलना में दिल्ली में 5,000 से अधिक मान्यता प्राप्त स्टार्ट-अप शुरु हुए हैं। सोमवार को संसद भवन में पेश किए गए आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22 यह जानकारी केंद्र सरकार की ओर से जारी की गई है। सोमवार को आर्थिक सर्वेक्षण जारी होने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने टवीट कर दिल्ली वालों को बधाई दी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने टवीट कर कहा कि दिल्ली वालों ने बेंगलुरु से अधिक स्टार्ट-अप शुरू किए हैं, यह दिल्ली वालों और दिल्ली सरकार के लिए गर्व का क्षण है।

वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने टवीट करते हुए कहा कि दिल्ली बनी देश की स्टार्ट-अप राजधानी। यानि कि युवाओं के लिए नई नौकरियां सृजित करने में दिल्ली अब देश में सबसे आगे है। अरविंद केजरीवाल हैं तो – हो तो सकता है। दिल्ली का युवा अब नौकरी मांगने वाला नही नौकरी देने वाला बन रहा है।

दिल्ली सरकार चला रही है बिजनेस ब्लास्टर कार्यक्रम

दिल्ली सरकार के स्कूलों में क्लास 11 और 12 के लिए आंत्रप्रेन्योरशिप माइंडसेट करिकुलम (ईएमसी) के तहत सितंबर में सभी सरकारी स्कूलों में ‘बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम’ लॉन्च किया गया है। जिसके तहत स्टूडेंट्स में आंत्रप्रेन्योर बनने के गुण विकसित किए जा रहे हैं। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कहते हैं, ‘बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम दुनिया के सबसे बड़े स्टार्टअप प्रोग्राम में से एक है। इसे हमारे स्कूलों के स्टूडेंट्स से काफी शानदार रिस्पॉन्स मिल रहा है। स्टूडेंट्स को मेंटरशिप और 2 हजार रुपये की सीड मनी दी जाती है ताकि वो अपना एंटरप्राइज शुरू कर सकें। स्टूडेंट्स को 60 करोड़ रुपये की सीड मनी दी गई है