दिल्ली मे सस्ते में मिल रहे है फ्लैट, आवेदन की बढ़ी डेट। कीमत मात्र

images 2022 02 03T115440.884
``` ```

देश की राजधानी दिल्ली में अपना आशियाना बनाना चाहते हैं तो यह खबर आपको खुश कर देगी, क्योंकि आवेदन करने पर आपको एक डीडीए फ्लैट मिलना तय है। वजह यह है कि दिल्ली विकास प्राधिकरण की आवासीय विशेष आवासीय योजना 2021 में इस बार भी लोगों ने कोई खास इच्छा नहीं जताई है। डीडीए फ्लैट के प्रति अरुचि का आलम है कि अब तक 16000 से कुछ अधिक ही आवेदन आए हैं।

ऐसे में अगर आप भी डीडीए फ्लैट पाना चाहते हैं तो आवेदन कर दीजिए तो आपको फ्लैट मिलना तय होगा। मिली जानकारी के मुताबिक, डीडीए की इस योजना में शामिल 18335 फ्लैटों के लिए 7 फरवरी तक मात्र 16000 हजार ही आवेदन आए थे। इस पर डीडीए ने योजना के तहत आवेदन करने की अवधि 10 मार्च तक बढ़ा दी है। इस तरह इच्छुक लोग अब एक महीने तक आवेदन कर सकते हैं। 

बता दें कि इस बार डीडीए के फ्लैटों के इस योजना में आवेदन पर 2000 रुपये की प्रोसेसिंग फीस ली जा रही है। जानकारो की मानें तो आवेदन की तारीख 3 दिन बढ़ाई गई है, जो 10 मार्च खत्म हो रही है। ऐसे में आवेदकों की संख्या 19,000 से कम रहने के आसार हैं। 

यह भी पढ़ें  बीटिंग रिट्रीट समारोह' के लिए आज दिल्ली में बदला रहेगा ट्रैफिक रूट, यह मेट्रो स्टेशन रहेंगे बंद

क्यों हुआ लोगों का मोहभंग

जानकारों की मानें तो 18000 से अधिक फ्लैटों के पीछे अरुचि के पीछे योजना में शामिल किए गए अधिकतर फ्लैटों काफी पुराना होना है। कुछ जगहों पर इनकी हालत जर्जर है, यह लोगों की ओर से कहा जा रहा है। यह कुछ हद तक सच भी है।

क्योंकि पिछले साल लांन्च योजना में अधिकतर लोगों ने सफल होने के बाद अपने फ्लैट सरेंडर कर दिए। दरअसल, पिछली योजना में ये फ्लैट आवंटित किए गए थे, मगर लोगों को यह फ्लैट पसंद नहीं आए और उन्होंने यह फ्लैट वापस लौटा दिए। बताया जा रहा है कि पिछले साल लांच की गई योजना में आवंटित हुए 40 प्रतिशत फ्लैट लोगों ने वापस लौटा दिए थे।

फ्लैटों के बारे में

दिसंबर, 2021 में लान्च की गई डीडीए की इस योजना के तहत एचआइजी श्रेणी के 205 फ्लैट हैं जबकि एमआइजी श्रेणी के 976 फ्लैट है। इसी तरह एलआइजी श्रेणी के 11452 फ्लैट और ईडब्ल्यूएस/जनता फ्लैट श्रेणी के 5702 फ्लैट योजना में शामिल हैं।

यह भी पढ़ें  द‍िल्‍ली-नोएडा आने जाने वालों को उठानी पड़ेगी परेशानी, 20 द‍िसंबर से शुरू हो रहा है ये वर्क

कीमत के लिहाज से दक्षिण दिल्ली के जसोला में एचआइजी श्रेणी के एक फ्लैट की अधिकतम कीमत 1.97 करोड़ रुपये से लेकर 2.14 करोड़ तक है। यहां पर सबसे मंहगे फ्लैट हैं। वहीं, बाहरी दिल्ली के नरेला इलाक में सबसे कम कीमत के फ्लैट (ईडब्ल्यूएस) उपलब्ध हैं। इन फ्लैटों की कीमत 7.91 लाख से लेकर 11.45 लाख के बीच है।

अच्छी बात यह है कि नरेला के ईडब्ल्यूएस फ्लैटों के निर्माण पर 10 से 40 फीसदी तक की लागत कम की है। यह फ्लैट असोला, वसंत कुंज, द्वारका के सेक्टर-19बी और 16बी सिरसपुर, रोहिणी के सेक्टर-34 एवं 35, मंगलापुरी और नरेला के सेक्टर-ए-1, ए-4 के पाकेट-1ए 1बी और सी में और नरेला के सेक्टर-जी-7 के पॉकेट 5 में उपलब्ध हैं।

यह भी जानें

डीडीए ने यह आवासीय योजना- 2021 23 दिसंबर को लांच की थी।

इस योजना में 18,335 फ्लैट शामिल किए गए हैं।
इसमें सबसे अधिक एलआइजी के 11452 फ्लैट हैं।
इनकी कीमत 10 लाख रुपये से लेकर 2.14 करोड़ रुपये तक है।

यह भी पढ़ें  दिल्ली आने जाने के लिए एक और Expressway, अभी नही लगेगा TOLL-TAX, निकलने से पहले जान लीजिए रूट

आवेदन से लेकर अन्य सभी प्रक्रिया आनलाइन है।
इस बार पुरानी कीमत पर आवंटियों को फ्लैट मिलेगा। अप्रैल, 2022 के बाद इनकी कीमत में बदलाव किया जाएगा। नरेला में ईडब्ल्यूएस फ्लैट की निर्माण लागत में 10 से 40 प्रतिशत तक की छूट देने का फैसला किया गया है।

अलग-अलग श्रेणी के लिए पंजीकरण राशि

आवासीय योजना में डीडीएडाटओआरजी पर आवेदन करना होगा। ईडब्ल्यूएस श्रेणी के लिए पंजीकरण राशि 25 हजार है। एलआइजी के लिए एक लाख और एमआइजी व एचआइजी के लिए दो लाख रुपये पंजीकरण राशि रखी गई है। इसके साथ ही सभी श्रेणी में आवेदन प्रोसेसिंग शुल्क के तौर पर दो हजार रुपये देने होंगे और यह राशि वापस नहीं मिलेगी।

श्रेणी- उपलब्ध फ्लैट

  • ईडब्ल्यूएस- 5702
  • एलआइजी-11452
  • एचआइजी-205
  • एमआइजी-976

फ्लैट की कीमत

  • ईडब्ल्यूएस-10 लाख से 29.50 लाख रुपये तक।
  • एलआइजी-14.15 लाख से 22.80 लाख रुपये तक।
  • एमआइजी-59 लाख से 1.24 करोड़ रुपये तक।
  • एचआइजी- 1.44 करोड़ से 2.14 करोड़ रुपये तक।