27 जनवरी को होगी डीडीएमए की अहम बैठक, लिया जाएगा ये अहम फैसला।

images 2022 01 26T120727.043 1

दिल्ली में लगातार हो कम हो रहे कोरोना के मामले को देखते हुए अगले कुछ दिनों में लोगों को प्रतिबंधों में कुछ छूट मिल सकती है। 27 जनवरी को उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल की अध्यक्षता में डीडीएमए की अहम बैठक होगी।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की भी बैठक में भाग लेने की संभावना है।इस मीटिंग में कोरोना के मौजूदा हालात की समीक्षा की जाएगी। मीटिंग में सभी बड़े अधिकारी मौजूद रहेंगे। माना जा रहा है बैठक के बाद वीकेंड कर्फ्यू खत्म करने पर भी विचार किया जाएगा।व्यापारियों की समस्याओं को देखते हुए बाजारों में कोविड गाइडलाइन पर भी चर्चा हो सकती है। भाजपा और आम आदमी पार्टी के साथ ही व्यापारियों ने भी सप्ताहांत में कर्फ्यू हटाने और बाजारों में आड-ईवन सिस्टम खत्म करने की मांग की है।

मिली जानकारी के अनुसार, उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में डीडीएमए की बैठक 27 जनवरी को दोपहर 12.30 बजे निर्धारित की गई है। इस बैठक में दिल्ली में छूट की अनुमति पर चर्चा होगी जो कोविड-19 की स्थिति में सुधार के मद्देनजर दी जा सकती है। एक आधिकारिक सूत्र के अनुसार सरकार इस महीने के अंत तक छात्रों के टीकाकरण की स्थिति के आधार पर फरवरी से स्कूलों को फिर से खोलने पर भी विचार कर सकती है।

दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को महामारी की स्थिति को देखते हुए वीकेंड कर्फ्यू एवं बाजारों से दुकानें खोलने की आड-इवेन व्यवस्था को समाप्त करने का प्रस्ताव दिया था, लेकिन उपराज्यपाल बैजल ने स्थिति में और सुधार होने तक पाबंदियों पर यथास्थिति बनाए रखने का सुझाव दिया था। उपराज्यपाल ने तब निजी कार्यालयों को 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति देने के सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उस समय कहा था कि पाबंदियों में ढील देने का निर्णय दिल्ली में कोविड-19 मामलों की घटती संख्या को देखते हुए और यह सुनिश्चित करने के लिए भी लिया गया था कि जनता की आजीविका प्रभावित न हो। वहीं दिल्ली के कई हिस्सों में व्यापारी भी पाबंदियों का विरोध कर रहे हैं और पाबंदियों को हटाने की मांग कर रहे हैं, जिसमें गैर-जरूरी सामान बेचने वाली दुकानों पर लगाई गई पाबंदियां शामिल हैं।वीकेंड कर्फ्यू शुक्रवार को रात 10 बजे लागू होता है और सोमवार सुबह पांच बजे तक जारी रहता है। दिल्ली में कोविड-19 मामलों में वृद्धि के कारण एक जनवरी को डीडीएमए द्वारा वीकेंड कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया था।डीडीएमए ने गैर-आवश्यक सेवाओं से संबंधित सभी निजी कार्यालयों को बंद करने सहित अन्य पाबंदियां भी लगायी थीं।सोमवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार कोविड-19 के नए मामलों की संख्या कम होकर 5,760 हो गई है। वहीं संक्रमण दर भी घटकर 11.79 प्रतिशत पर आ गई है।