दिल्ली से 20 मिनट में जेवर एयरपोर्ट पहुंचेगी बुलेट ट्रेन, फरीदाबाद, गुरूग्राम,नोएडा, आगरा से भी बेहद आसान हैं कनेक्टिविटी

images 2021 12 01T132623.028

नई दिल्ली। केंद्र सरकार जहां एक ओर देश में सडक़ों का जाल बिछाने में लगी है, वहीं कई रूटों पर बुलेट ट्रेन चलाने की योजना पर तेजी से काम चल रहा है। फिलहाल केंद्र सरकार का दिल्ली से मुंबई एक्सप्रेस वे और नोएडा एयरपोर्ट पर ध्यान केंद्रित है, इसके साथ साथ देश भर में कई बड़े राजमार्ग भी बनाए जा रहे हैं। केंद्र का मानना है कि तेज राजमार्ग जितनी जल्दी विकसित होंगे, उतनी रफ्तार से विकास भी हो पाएगा। इसके चलते ही देश भर में तमाम हाईवे कार्यों का निर्माण चालू है। इस कड़ी में बुलेट रेल का काम भी तेज गति से हो रहा है। माना जा रहा है कि जल्द ही दिल्ली से आगरा सहित वाराणसी और कई रूटों पर बुलेट ट्रेन दौड़ती नजर आएंगी।

बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट 958 किलोमीटर लंबा होगा

फिलहाल आपको बता दें कि दिल्ली से आगरा और वाराणसी रूटों पर बुलेट ट्रेन चलाने की योजना अंतिम चरण में है।राजधानी दिल्ली से वाराणसी के लिए हाई स्पीड ट्रेन या बुलेट ट्रेन प्रॉजेक्ट 958 किलोमीटर लंबा होगा, जिसमें लखनऊ से अयोध्या का 123 किलोमीटर का रूट भी शामिल रहेगा। डिटेल्ड प्रॉजेक्ट रिपोर्ट (DPR) के मुताबिक इसमें दिल्ली से आगरा के बीच 300 किलोमीटर प्रतिघंटे की स्पीड से बुलेट ट्रेन भी दौड़ेगी।

यह भी पढ़ें  सिर्फ 2 घंटे में पूरा होगा Delhi-Jaipur-Dausa का सफर, ये होगा पूरा रूट

दिल्ली से वाराणसी के बीच में 12 स्टेशन होंगे

सरकार की योजना के मुताबिक 2029-30 तक दिल्ली से आगरा और आगरा से दिल्ली के बीच हर घंटे 300 किलोमीटर प्रतिघंटे की स्पीड से बुलेट ट्रेन गुजरेगी। दिल्ली से वाराणसी कॉरिडोर के बीच में 12 स्टेशन होंगे। इसमें मथुरा, अयोध्या, प्रयागराज, वाराणसी जैसी धार्मिक जगहें भी होंगी। इसमें जेवर में एक अंडरग्राउंड स्टेशन भी होगा। इस पूरे प्रॉजेक्ट की कीमत 2 लाख 28 हजार की होगी।

पूर्वांचल को विकसित करने की योजना

नैशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NHRSCL) की तरफ से जारी डीपीआर के मुताबिक दिल्ली से आगरा के बीच बुलेट ट्रेन एक दिन में 63 ट्रिप पूरी करेगी। दिल्ली से लखनऊ के बीच 43 ट्रिप, दिल्ली से वाराणसी के बीच 18 ट्रिप। वहीं अयोध्या के लिए हर दिन 11 ट्रिप की योजना है। फिलहाल दिल्ली से वाराणसी के बीच 11 से 12 घंटे का समय लगता है। बुलेट ट्रेन के आने से यह समय 3 घंटे कम लगेगा। केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से वाराणसी और अयोध्या में विश्व स्तरीय इंफ्रास्ट्र्क्चर के जरिए पूर्वांचल को विकसित करने की योजना तैयार कर रही है।

यह भी पढ़ें  दिल्ली में 17 नवमबर से नया सिस्टम लागू 25% लगेगा टैक्स शराब पर दुकान मात्र 1% में नया MRP 10% महँगा होगा

20 मिनट में बुलेट ट्रेन पहुंचेगी जेवर एयरपोर्ट

बता दें कि सरकार की योजना है कि बुलेट ट्रेन को जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से भी जोड़ा जाएगा। यानि कि दिल्ली, यूपी से जेवर एयरपोर्ट पर आने वाले यात्रियों को ध्यान में रखकर ही बुलेट ट्रेन का संचालन किया जाएगा। यह ट्रेन दिल्ली के सराय कालेखां से शुरू होकर महज 20 मिनट में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंच जाएगी। दिल्ली के सराय काले खां से नोएडा एयरपोर्ट की दूरी करीब 70 किलोमीटर है, वहीं आगरा से इसकी दूरी 130 किलोमीटर ,गे्रटर नोएडा से 28 किलोमीटर और नोएडा से 40 किलोमीटर है जबकि हरियाणा के फरीदाबाद और गुरूग्राम की बात करें तो इन शहरों से भी पहुंचना बेहद आसान है।। बुलेट ट्रेन के अलावा एयरपोर्ट पर पहुंचने के लिए मेट्रो के साथ साथ हवा में चलने वाली पॉड टैक्सी भी एक बेहतर विकल्प साबित होगी ।