दिल्ली,नोयडा,गुरूग्राम,UP, के लोगो को जाम से मुक्ति,बन गए है सुरंग के नीचे 2 अंडरपास।

20220222 010108

दिल्ली में दो नए रूट चालू होने जा रहे हैं जिसमें एक प्रगति मैदान सुरंग सड़क है वही आश्रम के पास भी आश्रम अंडरपास शुरू होने जा रहा है जानिए इन दोनों ने रूट के शुरू होने से किस तरीके से दिल्ली के लोगों का आगमन सुलभ हो जाएगा.

अगले माह यानी मार्च से दिल्ली को कुछ हद तक जाम से मुक्ति मिलने जा रही है। दो बडे़ इलाकों को जाम से राहत मिलने की उम्मीद है। इसके साथ अगले महीने से चालू होने जा रही प्रगति मैदान सुरंग सड़क जहां आइटीओ इलाके को जाम से मुक्ति दिलाएगी, वहीं आश्रम अंडरपास के शुरू होने से इंडिया गेट से बदरपुर की ओर आना जाना आसान होगा। इस सुरंग से न केवल दिल्ली के लोगों को राहत मिलेगी, बल्कि एनसीआर के राज्यों यूपी और हरियाणा के लोगों को भी राहत मिलेगी। इससे उनका पैसा और ईंधन दोनों बचेंगे।

images 2022 02 22T005930.195

लाखों लोगों की ईंधन की होगी बचत

प्रगति मैदान सुरंग सड़क 1.2 किलोमीटर लंबी सुरंग सड़क और छह अंडरपास आइटीओ इलाके को जाम से मुक्ति दिलाने वाली योजना के हिस्सा हैं। इसमें चार अंडरपास मथुरा रोड के हैं, जिससे मथुरा रोड पर आइटीओ डब्ल्यू प्वाइंट से डीपीएस स्कूल तक करीब तीन किलामीटर मार्ग सिग्नल फ्री हो जाएगा। इस मार्ग पर छह लालबत्तियां बंद होंगी।

एक-एक रिंग रोड और भैरों मार्ग का अंडरपास है। सुरंग सड़क प्रगति मैदान के नीचे जाती है, जो पुराना किला रोड से शुरू होकर प्रगति पावर स्टेशन के पास रिंग रोड पर समाप्त होती है।इस परियोजना से ट्रैफिक जाम से राहत की अधिक उम्मीद है। इस सुरंग के शुरू होने से आइटीओ क्षेत्र में विकास मार्ग पर वाहनों का दबाव कम हो जाएगा।क्योंकि अशोक रोड, मंडी हाउस की ओर से आइटीओ होकर यमुनापार आने जाने वाले वाहन वाहन सुरंग सड़क का उपयोग करेंगे। इससे भैरों मार्ग पर भी यातायात की भीड़ कम होगी।

images 2022 02 22T005809.619

मार्च में दिल्ली के विकास से संबंधित वे परियोजनाएं पूरी हो रही हैं जिनकी दिल्ली की जनता पिछले कई साल से उम्मीद लगाए बैठी है। इससे यातायात जाम से राहत मिलेगी, समय व वाहन के ईंधन की बचत होगी।

दो अंडरपास भी बनकर तैयार

मथुरा रोड के चार अंडरपास में से सुंदर नगर और काका नगर के तैयार हैं। मटकापीर का बचा हुआ काम 15 मार्च पर पूरा होगा और मार्च अंत तक सुप्रीम कोर्ट अंडरपास भी तैयार हो जाएगा।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से इसका उद्घाटन कराए जाने की योजना है।अंडरपास में दीवार पें¨टग का काम भी अब पूरा हो गया है।इसका निर्माण कार्य 2017 में शुरू हुआ था और पहली समय सीमा मार्च 2019 थी।मार्च में आश्रम चौक अंडरपास का काम हो जाएगा पूरा

आश्रम चौक अंडरपास का काम भी अब अंतिम चरण में है। इसके शुरू हो जाने से इंडिया गेट से बदरपुर की ओर आने जाने वालों को लाभ मिल सकेगा।दिल्ली के साथ साथ हरियाणा के वाहन चालकों को भी लाभ मिल सकेगा। पहले ही छह समय सीमा से चूकने के बाद आश्रम अंडरपास के अगले महीने खुलने की उम्मीद है। 750 मीटर लंबाई वाले अंडरपास के निर्माण से आश्रम चौक पर भीड़भाड़ कम होने की उम्मीद है।

परियोजना की देखरेख कर रहे पीडब्ल्यूडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि मार्च की शुरुआत में अंडरपास को यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। अंडरपास की आधारशिला 24 दिसंबर 2019 को रखी गई थी और पहली समय सीमा दिसंबर 2020 निर्धारित की गई थी।

बेनीतो हुआ रेज मार्ग अंडरपास खुलेगा

बेनितो हुआरेज मार्ग पर बन रहा अंडरपास मार्च के अंत तक खोल दिया जाएगा। इस मार्ग से सेंट मार्टिन मार्ग सीधे जा सकेंगे। यहां से अंडरपास में जाने पर सेंट मार्टिन मार्ग और एयरपोर्ट की तरफ रिंग रोड पर भी जा सकेंगे। अंडरपास से एयरपोर्ट की ओर से आने वाले वीआइपी मूवमेंट को रिंग रोड पर राव तुलाराम फ्लाइओवर के नीचे लगने वाली जाम से राहत मिलेगी। एयरपोर्ट की ओर से आकर यहां दाहिने मुड़ने वाला यातायात इस मार्ग से अंडरपास से सेंट मार्टिन मार्ग होते हुए निकल जाएगा। अंडरपास से राव तुलाराम फ्लाइओवर के नीचे के यातायात को भी कम किया जा सकेगा