सावधान ! दिल्ली में इन जगहों पर नियम तोड़ना पड़ेगा भारी। सीधा 15000 का चालान कटके आयेगा घर।

गाजियाबाद: अब एक्सप्रेसवे पर ट्रैफिक नियम तोड़कर बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होगा, क्योंकि एनसीआर के दो प्रमुख एक्सप्रेसवे आधुनिक सीसीटीवी कैमरों से लैस हैं। अगर अब दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे और ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर अब यातायात नियम तोड़ा तो चालान आपके घर पहुंचेगा। बता दें कि ट्रैफिक पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के आधार पर ई-चालान करने शुरू कर दिए हैं। एनएचएआई की ओर से ट्रैफिक पुलिस को प्रतिदिन कैमरों की फुटेज भेजनी शुरू कर दी गई है।

इसलिए इन दोनों एक्सप्रेसवे पर चलने वाले वाहन चालक सावधान हो जाएं। ट्रैफिक पुलिस यातायात नियमों की अवहेलना करने वाले लोगों के एक हजार रुपये से लेकर 15 हजार रुपये तक के चालान काटकर घर भेज रही है।

दरअसल, ई-चालान काटने की प्रक्रिया को दो माह पहले ही दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर शुरू करना था। लेकिन, दो राज्य दिल्ली और उत्तर प्रदेश एक साथ वाहन ट्रेस होने के चलते दो बार ई-चालान की समस्या थी। क्योंकि ट्रैफिक नियमों के अनुसार, एक ही समय पर एक ही वाहन का चालान दो बार नहीं काटा जा सकता है। इस वजह से ई-चालान की व्यवस्था में देरी हो रही थी, लेकिन अब इस खामी को दूर करते हुए ई-चालान काटने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

इसके अलावा एक्सप्रेसवे पर वाहनों की पार्किंग की इजाजत नहीं होती है। इससे हादसे की आशंका बढ़ जाती है। वाहन खराब होने की स्थिति में चालक को तत्काल टोल फ्री नंबर पर कॉल करना होता है। एक्सप्रेसवे का रखरखाव करने वाली एजेंसी वाहन चालक को मदद पहुंचाएंगी। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर फिलहाल युवा वर्ग के लोग वाहन सड़क किनारे खड़ा कर सेल्फी लेने लगते हैं। अब ऐसा करने पर भी चालान कट सकता है।