द‍िल्‍ली-नोएडा आने जाने वालों को उठानी पड़ेगी परेशानी, 20 द‍िसंबर से शुरू हो रहा है ये वर्क

द‍िल्‍ली-नोएडा रूट (Delhi-Noida Route) पर सफर करने वालों को आने वाले कुछ महीनों में जाम की समस्‍या से जूझना पड़ सकता है. रिंग रोड पर आश्रम अंडरपास (Ashram Underpass) के निर्माण के साथ-साथ आश्रम फ्लाईओवर (Ashram Flyover) के एक्सटेंशन का कार्य के अलावा डीएनडी पर गड्डों के भराव कार्य और टूटी सड़क का कई जगह पैच‍िंग वर्क क‍िया जाना है. इसको लेकर 20 द‍िसंबर से डीएनडी पर मैंटेनेंस वर्क शुरू क‍िया जा रहा है.

विज्ञापन

जानकारी के मुताब‍िक तीन जगहों पर न‍िर्माण कार्य के चलते वाहन चालकों को बड़ी परेशानी और जाम की समस्‍या का सामना करना पड़ सकता है. दिल्ली-नोएडा-दिल्ली फ्लाईवे ( DND Flyway) रूट से बड़ी संख्‍या में वाहनों की आवाजाही होती है. वैसे तो इस रूट पर जाम की समस्‍या कभी भी पैदा हो जाती है. लेक‍िन अब इस मैंटेनेंस वर्क और दूसरे कार्यों के चलते वाहन चालकों को जाम की समस्‍या से और जूझना पड़ सकता है.

इस बीच देखा जाए तो रिंग रोड पर आश्रम अंडरपास के निर्माण के साथ ही आश्रम फ्लाईओवर के एक्सटेंशन कार्य के अलावा अफ्रीका एवेन्यू फ्लाईओवर के ज्वाइंट एक्सपेंशन की मरम्मत का कार्य भी चल रहा है.

करीब 15 क‍िमी लंबी दूरी पर तीन जगहों पर होना है मैंटेनेंस वर्क

अध‍िकार‍ियों की माने तो डीएनडी पर कई जगहों पर स्ट्रीट लाइट भी खराब पड़ी हैं. उनका मरम्मत का कार्य भी किया जाना है. डीएनडी फ्लाईवे से अफ्रीकन एवेन्यू फ्लाईओवर के बीच करीब 15 किमी की दूरी में तीन जगहों पर इन कार्यों को क‍िया जाना है.

हर रोज करीब साढ़े तीन लाख वाहनों की होती है आवाजाही

डीएनडी रूट पर हर रोज करीब साढ़े तीन लाख वाहन गुजरते हैं. इतनी बड़ी संख्‍या में वाहनों की आवाजाही होने और मैंटेनेंस वर्क के चलते होने वाली परेशान‍ियों को लेकर लोक न‍िर्माण व‍िभाग की ओर से पीडब्ल्यूडी की ने ट्रेफ‍िक पुल‍िस को भी पत्र ल‍िखकर अवगत करा द‍िया है. अब इस पर ट्रेफ‍िक पुल‍िस की ओर से प्‍लान तैयार करना है. इसके बाद ही इस पर मैंटेनेंस वर्क शुरू कर द‍िया है. इतनी बड़ी संख्‍या में वाहनों की आवाजाही को क‍िस तरह से सुन‍िश्‍च‍ित क‍िया जाए, इसको लेकर ट्रेफ‍िक पुल‍िस को पहले व्‍यवस्था बनानी जरूरी होगी.

जानकारी के मुताब‍िक डीएनडी फ्लाईवे पर किलोकरी से लेकर टोल बूथ तक आने और जाने वाले दोनों तरफ के रूट्स पर सड़क पर गड्ढे बन गए हैं. इसकी वजह से हादसे होने का भी अंदेशा बना रहता है. इस पूरे रूट पर करीब 200 से ज्‍यादा छोटे-बड़े गड्ढे बन गए हैं. इसकी वजह से वाहनों की रफ्तार पर भी काफी धीमी हो जाती है और जाम की समस्‍याआमतौर पर बनी रहती है.

द‍िल्‍ली क्षेत्र के अधीनस्‍थ डीएनडी ह‍िस्‍से की 80 फीसदी लाइट्स खराब

बताया जाता है क‍ि गड्ढों की वजह से वाहनों की रफ्तार तो कम रहती है ही, लेक‍िन कई बार वाहन रफ्तार में होने और अचानक गड्ढों की वजह से अन‍ियंत्र‍ित भी हो जाते हैं और हादसे का डर बना रहता है. अंधरे की वजह से यह समस्‍या और ज्‍यादा बड़ी बन जा रही है. करीब 80 फीसदी स्‍ट्रीट लाइट्स खराब पड़ी हुई हैं. इसकी वजह से डीएनडी से बारापुला और सराय काले खां जाने वाले लूप पर भी लोगों को बड़ी परेशानी हो रही है.

आश्रम चौक पर पहले ही बनी रहती है जाम की समस्या
इस बीच देखा जाए तो द‍िल्‍ली सरकार के लोक न‍िर्माण व‍िभाग की ओर से बनाए जा रहे आश्रम अंडरपास को न‍िर्माण कार्य भी अभी पूरा नहीं हुआ है. दिल्ली-नोएडा रूट पर यात्रा करने वालों को इसकी वजह से पहले ही जाम की समस्‍या से जूझना पड़ता है. यह जाम खासकर अंडरपास निर्माण के चलते न्यू फ्रेंडस कॉलोनी की ओर से नोएडा जाने पर हर रोज लगता है.

करीब दो साल से चल रहे आश्रम अंडरपास का न‍िर्माण कार्य पूरा होने में भी अभी वक्‍त लगेगा. यहां पर ब‍िजली की हेवी कैबेल्‍स के म‍िलने पर उनके श‍िफ्ट‍िंग वर्क की वजह से भी करीब दो से तीन माह का टाइम लग गया है. वहीं कोरोना संक्रमण और वायु प्रदूषण के चलते भी न‍िर्माण कार्य प्रभाव‍ित रहा है.

इसके अलावा इस रूट पर मैंटेनेंस वर्क के अलावा लाइट‍िंग, साइनेज बोर्ड आद‍ि की व‍िशेष व्‍यवस्‍था भी की जाएगी. इसकी वजह से रात के वक्‍त वाहन चालकों को ज्‍यादा परेशानी हो रही है. बताया जाता है क‍ि पीडब्‍लूडी की ओर से एम्स अस्पताल के बाद अफ्रीका एवेन्यू फ्लाईओवर का मरम्मत का कार्य भी किया जा रहा है. यह कार्य रात के समय किया जाता है. संभावना जताई जा रही है क‍ि एक सप्ताह में इसको पूरा कर लिया जाएगा.