दिल्ली की सड़कों पर अब दौड़ेंगे इलेक्ट्रिक ऑटो केजरीवाल सरकार ने इतने ड्राइवरों को दिया RC

20220401 142239

दिल्ली की सड़कों पर अब सीएनजी ऑटो (CNG Auto) के साथ-साथ इलेक्ट्रिक ऑटो (Electric Auto) भी दौड़ती नजर आएंगी. दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने शुक्रवार को इलेक्ट्रिक ऑटो के लिए लेटर ऑफ इंटेंट (LOI) देने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. परिवहन विभाग (Transport Department) ने शुक्रवार को 20 ड्राइवरों को ई-ऑटो के लिए लेटर जारी किया. परिवहन विभाग ने पिछले दिनों ही अलॉटमेंट के लिए ड्रॉ की प्रक्रिया पूरी कर ली थी. बता दें कि दिल्ली सरकार ने ड्रॉ के आधार पर 2855 मेल ड्राइवरों को चुना है, जिसमें से 33 प्रतिशत यानी 1406 ई-ऑटो महिला आवेदकों के लिए आरक्षित किए गए हैं. दिल्ली सरकार इन सभी को भी ई-ऑटो के लिए लेटर जारी करेगी.

20220401 142239

दिल्ली सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाए हैं. दिल्ली सरकार का दावा है कि अगले 2 महीनों में दिल्ली की सड़कों पर सैकड़ों ई-बसें और हजारों ई-ऑटो दौड़ेंगे. केजरीवाल सरकार ने कहा है कि आवंटन के महज 3 दिन बाद ही इलेक्ट्रिक ऑटो चालकों को एलओआई जारी कर दिया है. सफल आवेदकों को टीएसआर खरीदना होगा और 30 अप्रैल 2022 से पहले सीईएसएल के सिंगल विंडो पोर्टल पर पंजीकरण के लिए आवेदन करना होगा. ऐसा न करने पर एलओआई को सरेंडर माना जाएगा और प्रतीक्षा सूची में शामिल किया जाएगा. ई-ऑटो के पंजीकरण की अनुमति केवल वैध पीएसवी बैज वाले और एलओआई प्रस्तुत करने पर ही दी जाएगी.

IMG 20220401 150805

दि्ल्ली की सड़कों पर अब ई-ऑटो गाड़ियां दौड़ने लगेंगी
परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में राजधानी में पहले 20 ई-ऑटो के मालिकों को आशय पत्र (एलओआई) का पहला सेट सौंपा, जिसमें 10 महिला ई-ऑटो चालक शामिल थीं. इस मौके पर गहलोत ने कहा कि दिल्ली सरकार न केवल प्रदूषण को कम करने और लास्ट माइल कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने में बल्कि दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था में एक मजबूत महिला उपस्थिति स्थापित करने में भी बड़ी छलांग लगा रही है.

दिल्ली सरकार का क्या कहना है
गौरतलब है कि पिछले दिनों ही परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा था कि दिल्ली की सड़कों पर बहुत जल्द हजारों की संख्या में इलेक्ट्रिक ऑटो दौड़ते नजर आएंगे. ड्रॉ के जरिए चुने गए आवेदकों को 28 फरवरी तक लेटर ऑफ इंटेंट जारी कर दिया जाएगा. आवेदकों की लिस्ट परिवहन विभाग की वेबसाइट transport.delhi.gov.in. पर जारी की जा चुकी है.

दिल्ली सरकार को कितने आवेदन मिले थे
दिल्ली सरकार को 4261 ई-ऑटो के लिए कुल 20 हजार 589 आवेदन मिले थे, जिनमें से 19 हजार 846 पुरुष आवेदक थे और 743 महिला आवेदक थीं. पुरूष आवेदकों के लिए कंप्यूटराइज्ड ड्रॉ किया गया और 2855 आवेदक चुने गए हैं. साथ ही 285 को वेटिंग लिस्ट में शामिल किया गया है. महिलाओं के आवेदन आरक्षित किए गए ई-ऑटो से कम रहे हैं. दिल्ली सरकार के मुताबिक, जिन 743 महिलाओं ने आवेदन किया है, उनको लेटर जारी किए जा रहे हैं. साथ ही अब महिलाओं के लिए आवेदन प्रक्रिया को फिर से शुरू किया जा रहा है, ताकि जो 663 ई ऑटो बचे हुए हैं, उन्हें भी महिलाओं को ही अलॉट किया जा सके.

महिला चालकों के लिए फिर से मंगाए जाएंगे आवेदन
परिवहन विभाग का कहना है कि अगर इसके बाद भी आवेदन कम आते हैं तो फिर उन ई ऑटो का कोटा दिल्ली मेट्रो को सौंप दिया जाएगा. लेकिन, शर्त यह होगी कि डीएमआरसी यह सुनिश्चित करे कि उन ऑटो को भी महिला ड्राइवर ही चलाएं. डीएमआरसी एग्रीगेटर या ऑपरेटर्स के जरिए इन ई-ऑटो को लास्ट माइल कनेक्टिविटी के जरिए चलवा सकती है. महिला जिन इलेक्ट्रिक ऑटो को चलाएंगी, उनका रंग हल्का नीला होगा

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 11 फरवरी को अपने आदेश में दिल्ली सरकार को इलेक्ट्रिक ऑटो के लिए अलॉटमेंट प्रक्रिया शुरू करने की इजाजत दी थी. परिवहन विभाग ने पिछले साल अक्टूबर में ई-ऑटो के पंजीकरण के लिए योजना शुरू की थी. सरकार ने ई-ऑटो मेला भी आयोजित किया था. मेले में महिंद्रा, पियाजियो, ईटीओ मोटर्स और सारथी जैसे ई-ऑटो निर्माताओं ने भाग लिया था.