Home बिजनेस जानें क्या हुआ, केंद्रीय कर्मचारियों की PENSION RULES में रिवीजन ?

जानें क्या हुआ, केंद्रीय कर्मचारियों की PENSION RULES में रिवीजन ?

दीपावली से पहले रक्षा मंत्रालय ने केंद्रीय कर्मचारियों की पेंशन को लेकर बड़ी घोषणा की है। इसके अंतर्गत अब रक्षा क्षेत्र में काम कर रहे कर्मचारियों की फैमिली पेंशन की रकम में बढ़ोतरी की जा रही है। दरअसल रक्षा मंत्रालय ने उन कर्मचारियों की फैमिली पेंशन बढ़ाने का निर्णय लिया है,जो रक्षा क्षेत्र से जुड़े हुए हैं। बता दे कि पेंशन की सीमा को बढ़ाने का निर्णय सातवें वेतन आयोग के अंतर्गत लिया गया है। वहीं, सातवें वेतन आयोग के बाद उच्चतम वेतन को संशोधित कर 2.5 लाख रुपए प्रति माह बढ़ा दिया गया है।

जानें फैमिली पेंशन को रिवाइज

पेंशन कल्याण विभाग ने टू फैमिली पेंशन की उच्चतम सीमा को रिवाइज करने का फैसला लिया है। जिसके अंतर्गत यदि किसी एक परिवार में बच्चों के माता-पिता दोनों केंद्रीय कर्मचारी हैं तो उन्हें हर महीने 1.25 लाख रुपए की फैमिली पेंशन प्रदान की जाएगी। इससे अलग कुछ मामलों में 2.5 लाख के वेतन का 30% यानी 75,000 रुपए बच्चों को फैमिली पेंशन के तौर पर दी जाएगी।

मुआवजे के नियम का भी ऐलान

बताया जा रहा है कि नौकरी के दौरान रक्षा कर्मचारियों ने जिस व्यक्ति को अपना नॉमिनी बनाया है, उसे ही मुआवजे की राशि का भुगतान किया जाएगा। और अगर रक्षा कर्मचारी ने अपनी नौकरी के दौरान किसी को नॉमिनी नहीं बनाया है और ड्यूटी करते समय उसकी मृत्यु हो जाए तो मुआवजे की राशि परिवार के सदस्य के बीच बराबर-बराबर वितरित की जाएगी।

जानिए पेंशन के नए नियम

नए नियमों के अनुसार, सातवें वेतन आयोग के बाद सरकारी नौकरी में पेमेंट डिवाइड करते हुए 2.5 लाख रुपए कर दिया गया है। जिसके बाद से बच्चों को मिलने वाली पेंशन में भी परिवर्तन हुआ है। DOPPW (Department of Pension and pensioners Welfare) की सूचना के मुताबिक,‌ दो सीमाओं में बदलाव किया गया है। इन्हें 1.25 लाख रुपए प्रति महीना और 75,000 रुपया प्रति महीना किया गया है